‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ सीरियल में काम कर चुका एक्टर बना चेन झपटमार

एक्टर

मुंबई: सपनो की दुनिया मुंबई शहर में छोटे परदे के कई मशहूर सीरियलों में छोटे-मोटे रोल करने के बाद काम की तलाश में भटक रहे एक्टर
ने अपराध की दुनिया में कदम रख दिया। बी.कॉम की शिक्षा पूरी करने के बाद अपराध की दुनिया में कदम भी रखा तो इस एक्टर को जुए की बुरी लग गयी। इस सिलसिले में पुलिस ने एक्टर मिराज कापड़ी और उसके साथ मौजूद एक बिल्डर को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों की गिरफ्तारी की पुष्टि रांदेर (सूरत) पुलिस ने सोमवार को की। गिरफ्तार एक्टर का नाम मिराज वल्लभदास कापड़ी और उसके साथी बिल्डर का नाम वैभव बाबू जादव है।

रांदेर पुलिस के मुताबिक, मिराज और वैभव बाबू के निशाने पर अमूमन बुजुर्ग महिलाएं होती थीं। मिराज यूं तो मूल रूप से जूनागढ़ का रहने वाला है। हालांकि वो मुंबई के अंधेरी इलाके में भी कभी कभार रहने को पहुंच जाता था। वहां वो फिटनेस ट्रेनर के बतौर काम करके थोड़ा-बहुत पैसा कमा लेता था। मगर बुरी लतों के चलते उसका उस पैसे से काम नहीं चलता था। रांदेर भेसान चौराहे के पास दोनों को तब गिरफ्तार किया गया, जब वे रास्ते में आ जा रही बुजुर्ग महिलाओं को झपटमारी का शिकार बनाना चाह रहे थे।

पुलिस के मुताबिक, मिराज को क्रिकेट में सट्टा (जुए) की लत लगी हुई है। जबकि उसके पास आमदनी न के बराबर थी। कुछ समय पहले वो क्रिकेट की सट्टेबाजी में लाखों रुपए हार गया था। लिहाजा उसे दो जून की रोटी का जुगाड़ करना भी मुश्किल हो गया। तब उसने रातोंरात मोटी रकम जुटाने के लिए अपने साथ बिल्डर वैभव बाबू जादव को मिला लिया। और फिर चेन झपटमारी शुरू कर दी। गिरफ्तार आरोपियों ने खुद के सिर पर लाखों रुपए लोगों की कर्जदारी होने की बात भी पुलिस को बताई है। गिरफ्तार दोनों चेन झपटमार लंबे समय से मिलकर आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे थे। पुलिस उन सुनारों का पता भी लगाने में जुटी है जो, इनके द्वारा झपटे गए सोने चांदी के जेवरातों को औने-पौने दाम में खरीदते थे।

यह भी पढ़े: http://RSS प्रमुख मोहन भागवत ने हर की पैड़ी में लगाई श्रद्धा की डुबकी