चीन में कोरोना ने फिर दी दस्तक: 24 घंटे में चीन में कोरोना के 100 नए मामले

चीन: कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर पूरी दुनिया से झूठ बोलकर संक्रमण को समस्त देशों में फैलाने वाला चीन एक बार फिर दुनिया से झूठ बोल रहा है। चीन ने दावा किया था कि उसके यहां से कोरोना वायरस को पूरी तरह खत्म कर दिया गया है, लेकिन इस झूठ पर चालबाज देश का चेहरा बेनकाब हो गया है।
इस समय चीन से फैले कोरोना वायरस (Corona Virus) का मुकाबला पूरी दुनिया कर रही है। यही नहीं तमाम विकसित देश तक इसका प्रकोप झेल नहीं पाए। दुनियाभर में एक लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस के कारण जान गवां चुके हैं। इस सब तबाही के पीछे सभी देश चीन को जिम्मेदार मान रहे हैं।
अब दोबारा चीन में कोरोना का कहर जारी हो गया है। चीन ने दावा किया था कि उसने अपने यहां से लॉक डाउन तक खत्म कर दिया और कोरोना की तबाही भी शांत हो गयी है, लेकिन ये सब झूठ साबित हुआ।
चीन के झूठ पर से पर्दा उठ गया है। खबर यह है कि वुहान में कोरोना के नए मरीज फिर से सामने आ रहे हैं, जिसके चलते यह आशंका जताई जा रही है कि कोरोना की एक बार फिर से वापसी हो गयी है।

24 घण्टों में लगभग 100 नए संक्रमित मामले

तो वही चीनी स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक पिछले 24 घण्टों में लगभग 100 नए संक्रमित मामलों का पता चला है। इसके बावजूद चीन सरकार कह रही है कि ये सभी विदेशों के मामले हैं, चीन के मूल निवासी कोरोना से संक्रमित नहीं पाए गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक देश के कुछ हिस्सों में समूह स्तर पर कोरोना वायरस संक्रमण की जानकारी सामने आने के बाद आयोग के प्रवक्ता मी फेंग ने शनिवार को लोगों से रक्षात्मक उपायों को मजबूत करने और भीड़ लगाने से बचने को कहा है।

कोरोना वायरस के प्रकोप से जूझ रहे अन्य देशों में फंसे चीनी नागरिकों के चीन सरकार की मदद से देश लौटने के बाद कोरोना वायरस के मामले बढ़ने लगे है। ये दावा चीन का विदेश मंत्रालय कर रहा है। उल्लेखनीय है कि एक बार झूठ बोलकर चीन दुनिया को संकट में डाल चुका है। इसलिए उसकी बात पर कोई भी देश भरोसा नहीं कर रहा है।

चीन की नेशनल हेल्थ कमीशन के मुताबिक यहां पर 1092 ऐसे केस हैं, जिनमें कोरोना के वायरस तो मिले हैं। लेकिन उनमें इस बीमारी के लक्षण नहीं दिख रहे हैं। इसमें दूसरे देशों से आए 338 लोग भी शामिल हैं। ये सभी मेडिकल निरीक्षण में हैं। इन आंकड़ों के साथ ही चीन में कोरोना के मामलों की पुष्ट संख्या 81953 पहुंच गई है।

इसमें से 1089 वैसे मरीज शामिल हैं, जिनका अभी भी इलाज चल रहा है। कुल मिलाकर 77525 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं। जबकि चीन में अबतक इस बीमारी से 3339 लोगों की मौत हो गई है। उक्त आंकड़े चीन सरकार ने दिए हैं। इसलिए दुनिया को इन आंकड़ों की विश्वसनीयता पर शक है।

कोरोना के नए मामले सामने आने के बाद चीन सरकार के होश उड़ रहे हैं। शी जिनपिंग के झूठ के कारण चीन के लोगों में सत्ता के खिलाफ आक्रोशित स्वर भी उठ रहे हैं।

यह भी पढ़े: 
http://कोरोना वायरस: ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड सीरीज तत्काल प्रभाव से स्थगित

Leave a Reply

Your email address will not be published.