पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट में लगी भीषण आग में 5 लोगों की मौत, 25 लाख का मुआवजा देगा सीरम इंस्टीट्यूट

महाराष्ट्र: पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया Serum Institute) के मंजरी परिसर की एक इमारत में गुरुवार को आग लगने से पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने यह जानकारी दी। इससे पहले, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) ने कहा कि आग की घटना से कोविशील्ड टीकों (Covishield Vaccine) के निर्माण को कोई नुकसान नहीं हुआ है। कोविड-19 के राष्ट्रव्यापी टीकाकरण कार्यक्रम (Covid-19 Vaccination Program) के लिए ‘कोविशील्ड’ टीके का निर्माण सीरम संस्थान के मंजरी केन्द्र में ही किया जा रहा है। हादसे में जिन लोगों की मौत हुई है उनमें उत्तर प्रदेश के बिपिन सरोज और रमा शंकर, बिहार के सुशील कुमार पांडे, पुणे के महेंद्र इंगळे और प्रतीक पाष्टे शामिल हैं ।

सूत्रों ने कहा कि जिस भवन में आग लगी वह सीरम केन्द्र की निर्माणाधीन साइट का हिस्सा है और कोविशील्ड निर्माण इकाई से एक किमी दूर है, इसलिए आग लगने से कोविशील्ड के निर्माण पर कोई असर नहीं पड़ा है। पूनावाला ने कहा, “मैं सभी सरकारों और लोगों को एक बार फिर आश्वासन देता हूं कि कोविशील्ड के निर्माण को कोई नुकसान नहीं होगा क्योंकि मैंने ऐसे हालात से निपटने के लिये सीरम संस्थान में विभिन्न निर्माण भवनों को आरक्षित रखा है। पुणे पुलिस और दमकल विभाग का धन्यवाद।

पूनावाला ने ट्वीट किया, “आपकी चिंता और प्रार्थनाओं के लिए आप सभी को धन्यवाद. अब तक की सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आग में किसी व्यक्ति की जान नहीं गई या कोई ज्यादा घायल नहीं हुआ, जबकि आग से इमारत को कुछ क्षति पहुंची है।

सीरम इंस्टीट्यूट serum institute के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर सायरस पूनावाला ने बयान जारी कर कहा कि- “आज सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में हम सबके लिए एक बेहद ही दुख भरा दिन है. बड़े अफसोस की बात है कि मंजरी में स्पेशल इकोनॉमिक जोन स्थित हमारे अंडर इंस्टॉलेशन फैसिलिटी में लगी आग में जानमाल का नुकसान हुआ. हम बहुत दुखी हैं और दिवंगत के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं. इस संबंध में, हम मानदंडों के अनुसार अनिवार्य राशि के अलावा, प्रत्येक परिवार को 25 लाख रुपये  का मुआवजा देने की पेशकश करेंगे।