रक्षा मंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किया कैलाश मानसरोवर लिंक रोड का उद्घाटन

दिल्ली: रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कैलाश मानसरोवर (Kailash Mansarovar) के लिए लिंक रोड का उद्घाटन किया।
भारत की सड़क चीनी सीमा तक पहुंच गई है। देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस सड़क का उद्घाटन किया है। इस मौके पर रक्षा मंत्री के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ यानि सीडीएस जनरल बिपिन रावत तथा थल सेनाध्यक्ष जनरल मनोज मुकुंद नरवाने भी मौजूद थे।

कैलाश मानसरोवर (Kailash Mansarovar) लिंक रोड को रक्षा मंत्री ने बड़ी उपलब्धि बताया। कहा कि सड़क का राष्ट्र के निर्माण में अहम योगदान होता है। बीआरओ की सराहना की और कहा कि लिपुलेख तक सड़क बनने से कैलाश मानसरोवर यात्रा सुगम होगी। स्थानीय लोगों को भी सड़क सुविधा मिलेगी।

रक्षामंत्री ने बताया कि इस सड़क से भारत और चीन के बीच व्य्यापार को गति मिलेगी और विकास को बल मिलेगा। उन्होंने सड़क निर्माण के दौरान अपनी जान गवाने वाले जवानों को भी श्रद्धांजलि दी। रक्षा मंत्री ने जवानों के परिवारों के प्रति संवेदना जताई और फ्लैग ऑफ करने के बाद बीआरओ के वाहन गुंजी के लिए रवाना हुए।

इस सड़क के बनने से कैलाश मानसरोवर यात्रा के अलावा छोटा कैलाश यात्रा और माइग्रेशन पर जाने वाले लोगों के लिए राह थोड़ी आसान हो गई है। चीन सीमा के निकट अभी तीन किमी। की कटिंग का काम छोड़ दिया गया है। बताया जा रहा है कि फिलहाल ऐसा सुरक्षा की दृष्टि से किया गया है।

 

इसके साथ ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज धारचूला (उत्तराखंड) से लिपुलेख (चीन बॉर्डर) तक रोड लिंक का उद्घाटन किया। राजनाथ सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से पिथौरागढ़ से गुंजी तक वाहनों के काफिले को रवाना किया

यह भी पड़े: http://महाराष्ट्र के औरंगाबाद में दुखद हादसा: ट्रेन से कटकर 17 मजदूरों की मौत

Leave a Reply

Your email address will not be published.