RBI: भारतीय रिज़र्व बैंक ने कोरोना संकट के बीच आम जनता को दी बड़ी राहत: जाने क्या हुई घोषणाएं

दिल्ली: आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास (RBI Governor Shaktikant Das) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कोरोना काल(Corona virus) में आम लोगों को बड़ी राहत दी है, उन्होंने देश में महामारी के चलते हुए लॉक डाउन से बिगड़ी अर्थव्यवस्था में आम जनता को पहले तो EMI मोरेटोरियम यानी अब लोन की EMI अगस्त तक नहीं चुकाने की छूट मिल गई है। इसका मतलब है कि अगर आप अगले 3 महीने तक अपने लोन की EMI नहीं देते हैं तो बैंक आप पर किसी तरह का कोई दबाव नहीं डालेगा। बता दें कि पहले यह छूट मार्च से मई तक दी गई थी।अब EMI भुगतान में छूट को अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

आरबीआई गवर्नर का जनता को राहत देने वाला फैसला: शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में आरबीआई गवर्नर(RBI Governor Shaktikant Das) ने कहा कि कोरोनो वायरस(Corona virus) के कारण ग्लोबल इकोनॉमी पर बड़ा असर पड़ा है।आपको बता दें कि लॉकडाउन के दौरान आरबीआई ने रेपो रेट में दूसरी बार कटौती की है। इससे पहले 27 मार्च को आरबीआई गवर्नर ने 0.75 फीसदी कटौती का ऐलान किया था।  RBI ने रिवर्स रेपो रेट 3.75 फीसदी से घटाकर 3.35 फीसदी कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘महंगाई दर अभी भी 4 फीसदी के नीचे रहने की संभावना है।

ब्याज दरों में 0.40 फीसदी की कटौती का ऐलान: RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने रेपो रेट 0.40 फीसदी घटाकर 4 फीसदी कर दी है। गवर्नर ने बताया कि MPC की बैठक में 6-5 सदस्यों ने ब्याज दरें घटाने के पक्ष में सहमति जताई. इस फैसले से होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन सहित सभी तरह के कर्ज पर ईएमआई सस्ती होगी।

RBI का मोरटोरियम पर बड़ा फैसल: टर्म लोन पर मोरटोरियम की सुविधा को 3 महीने के लिए और बढ़ाया गया। बैंकों से कर्ज लेने वालों को मिली बड़ी राहत मिलेगी।लॉकडाउन बढ़ने से मोरोटोरियम और दूसरी राहत तीन महीने तक और बढ़ाई जा रही हैं।अब ईएमआई देने पर राहत 1 जून से 31 अगस्त तक लिए बढ़ाई जा रही है।

महंगाई बढ़ने की आशंका जताई: लॉकडाउन की वजह से महंगाई बढ़ने की आशंका है। अनाजों की आपूर्ति एफसीआई से बढ़ानी चाहिए।देश में रबी की फसल अच्छी हुई है। बेहतर मॉनसून और कृषि से काफी उम्मीदे है।

कारोबारियों के लिए बड़ा ऐलान: सिडबी को रकम के इस्तेमाल के लिए अतिरिक्त समय मिलेगा। सिडबी को 15000 करोड़ रुपये के इस्तेमाल के लिए 90 दिनों का अतिरिक्त समय मिलेगा ।

देश के 6 राज्य कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा हुए प्रभावित: ग्लोबल इकोनॉमी मंदी के दौर से गुजर रही है। देश में टॉप 6 राज्य कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए है। इनका देश की अर्थव्यवस्था में 60 फीसदी हिस्सा है।

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने यह भी कहा कि 2021 में विकास दर नकारात्मक रहने की संभावना है।

यह भी पढ़े:http://Corona Virus: पिता को साइकिल पर बैठा सैकड़ों मील का सफर तय करने वाली ज्योति को अखिलेश यादव देंगे 1 लाख रूपये, किया ऐलान

Leave a Reply

Your email address will not be published.