Delhi में वीकेंड कर्फ्यू का ऐलान: एक दिन में 17 हजार मामले आने के बाद लिया गया फैसला, शादियों के लिए ई-पास शुरू

delhi

 दिल्ली: कोरोना के बढ़ते कहर ने आखिरकार दिल्ली delhi सरकार को भी सख्त फैसला लेने पर मजबूर कर दिया है | सीएम केजरीवाल ने दिल्ली में वीकेंड कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है। उन्होंने गुरुवार को नई पाबंदियों के बारे में बताया। वीकेंड कर्फ्यू शुक्रवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। कर्फ्यू का फैसला इसलिए जरूरी हो गया था, क्योंकि 5 हफ्ते में दिल्ली में कोरोना के मामले 25 गुना बढ़ गए हैं। 11 मार्च से 17 मार्च तक यहां 2995 केस आए थे, जो 8 अप्रैल से 14 अप्रैल के बीच 76 हजार 870 तक पहुंच गए हैं।

पाबंदियों के बीच दिल्ली delhi सरकार ने इस सीजन होने वाली शादियों का खयाल रखा है साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि कर्फ्यू के दौरान शादियों में शामिल होने के लिए ईपास दिए जाएंगे।

कुछ इस प्रकार रहेंगी छूट-

 

1. मॉल, जिम, स्पा, ऑडिटोरियम, बाजार और निजी दफ्तर बंद रहेंगे।

2. सिनेमा हॉल खुलेंगे, लेकिन सिटिंग कैपेसिटी की 30% क्षमता के साथ।

3. रेस्टोरेंट में बैठकर खाना नहीं खा सकते, केवल होम डिलिवरी हो सकती है।

4. हर म्युनिसिपल जोन में रोज एक वीकली मार्केट खोले जाने की इजाजत।

5. कर्फ्यू के दौरान शादियां अटेंड करने के लिए लोगों को कर्फ्यू पास (ई-पास) दिए जाएंगे।

6. हॉस्पिटल, एयरपोर्ट, बस और रेलवे स्टेशन जाने वालों को वीकेंड कर्फ्यू के दौरान छूट रहेगी। इसके लिए पास लेना होगा।

30 मिनट की बैठक के बाद उपराज्यपाल और सीएम ने लिया फैसला-

आंकड़ों पर नजर डालें तो दिल्ली में बुधवार को 17,282 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। 9,952 लोग रिकवर हुए और 104 की मौत हो गई। अब तक यहां 7.67 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 7.05 लाख ठीक हो चुके हैं, जबकि 11 हजार 540 मरीजों की जान चली गई। एक्टिव केस 50 हजार 736 हैं। लगातार बढ़ते मामलों के चलते गुरुवार को केजरीवाल और दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल के बीच अहम बैठक हुई। इसमें दिल्ली में संक्रमण रोकने के लिए सख्त कदम उठाने पर चर्चा हुई। बैठक के करीब आधे घंटे बाद केजरीवाल ने वीकेंड कर्फ्यू का ऐलान कर दिया।