Postpaid Plan में शुरू होगा टैरिफ वॉर, जल्द सस्ते हो सकते हैं प्लान्स

Postpaid Plan

पोस्टपेड मोबाइल (Postpaid Plan) रखने वाले ग्राहकों के भी अब अच्छे दिन आने वाले हैं। भारत में Reliance Jio के बाद अब airtel, Vodafone-Idea भी जल्दी ही नए टैरिफ प्लान्स जारी कर सकती हैं। पोस्टपेड में टैरिफ वार का सीधा फायदा ग्राहकों को होगा।

नई दिल्ली: पोस्टपेड मोबाइल (Postpaid Plan) रखने वाले ग्राहकों के भी अब अच्छे दिन आने वाले हैं। हाल ही में रिलायंस जिओ ने अपने नए पोस्टपेड प्लान्स लांच किये है, इन प्लान्स में रिलायंस जियो अपने ग्राहकों को नेटफ्लिक्स, अमेज़न जैसी OTT सर्विस फ्री में दे रही है। जानकारी के अनुसार airtel और Vodafone-Idea भी जल्दी ही नए टैरिफ जारी कर सकती हैं। पोस्टपेड प्लान्स (Postpaid Plan) में टैरिफ वार का सीधा फायदा ग्राहकों को होगा। रिलायंस जिओ की टेलीकॉम सेक्टर में एंट्री मोबाइल ग्राहकों के लिए बेहद फायदेमंद रही है 250 रुपए प्रति जीबी डाटा का इस्तेमाल करने वाले ग्राहक अब 8-10 प्रति जीबी डाटा का इस्तेमाल कर रहे हैं।

https://www.newstrendz.co.in/uk/uttarakhand-trivenra-govt-decision-no-one-will-remain-unemployed-in-the-state/

Reliance Jio ने 5 नए पोस्टपेड प्लान

Reliance Jio ने अभी हाल ही में 5 नए पोस्टपेड प्लान (Postpaid Plan) बाजार में पेश किये हैं। जिनकी कीमत 399 रुपए प्रतिमाह से लेकर 1499 रुपए प्रतिमाह तक है। इन प्लांस के अंदर जिओ अपने ग्राहकों को नेटफ्लिक्स, अमेजॉन प्राइम, हॉटस्टार, जिओ टीवी जैसे OTT एप्स का सब्सक्रिप्शन मुफ्त दे रहा है। साथ ही ग्राहकों को इन फ्लाइट कनेक्टिविटी, इंटरनेशनल रोमिंग, अनलिमिटेड वॉयस कॉल और 200 GB डाटा रोल ओवर जैसी सुविधाएं भी दे रहा है। जानकार मानते हैं कि दूसरी टेलीकॉम भी जल्दी ही इससे मिलते हुए प्लान ला सकती हैं।

एयरटेल-वोडाफोन के सस्ते प्लान्स

एयरटेल का अभी सबसे सस्ता पोस्टपेड प्लान 499 रुपए प्रतिमाह का है इसमें कंपनी ग्राहकों को 70 जीबी डाटा देती है। जबकि vodafone-idea का सबसे सस्ता प्लान 399 का है इसमें कंपनी ग्राहकों को 40 जीबी डाटा देती है लेकिन दोनों में नेटफ्लिक्स और हॉटस्टार जैसे सब्सक्रिप्शन मुफ्त में नहीं है लेकिन ये कंपनियां अब जल्दी ही नए प्लांस लॉन्च कर सकती हैं।

5 करोड़ लोग ही पोस्टपेड सिम कार्ड वाले

भारत में 100 करोड में से मात्र 5 करोड़ लोग ही पोस्टपेड सिम कार्ड का इस्तेमाल करते हैं यानि इन ग्राहकों की संख्या मात्र 5 फीसदी है लेकिन प्रीपेड के मुकाबले इनसे मिलने वाला एवरेज रिवेन्यू पर यूजर 3 गुना ज्यादा होता है। इसलिए छोटी संख्या के बावजूद पोस्टपेड ग्राहक कंपनी के एसेट माने जाते हैं। कोई भी कंपनी इन्हें खोना नही चाहेगी और ग्राहकों के लिए बेहतर प्लान लाएगी।

यह भी पढ़े: CoronaVirus: भारत बायोटेक तैयार करेगी कोरोना वैक्‍सीन की करीब 1 अरब डोज