बबिता फोगाट के जमात ट्वीट पर बवाल: कान खोलकर सुन लो मैं कोई जायरा वसीम नहीं हूं, धमकियों से नहीं डरूंगी

देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के अधिकतर मामलों के लिए जिम्मेदार माने जा रहे रहे तबलीगी जमात पर भारत की चोटी की पहलवान बबीता फोगाट के एक ट्वीट किया था जिस पर ट्वीटर में संग्राम छिड़ गया है। बबीता ने अब खुलकर अपने ट्वीट (Tweet) का बचाव किया है। शुक्रवार को उन्होंने एक विडियो जारी कर विरोध कर रहे लोगों पर हमला किया। उन्होंने कहा कि वह ‘जायरा वसीम’ नहीं हैं और न ही वह किसी तरह की धमकी से डरने वाली हैं।

 

बबीता ने गुरुवार को टि्वटर के जरिए तबलीगी जमात पर निशाना साधा था। अपने ट्वीट (Tweet) में उन्होंने जो हैशटैग इस्तेमाल किया था वह कई लोगों को नागवार गुजरा था। उनके इस ट्वीट के बाद ट्विटर पर लोगों ने उनको घेरना शुरू कर दिया था, इसके साथ ही उनके फैन्स उनके समर्थन में आ गए थे और साथ समर्थन जताने लगे। दोनों हैशटैग शुक्रवार को टॉप ट्रेंड्स में बने रहे।

बबीता (Babita) इसके बाद एक वीडियो संदेश के जरिए सामने आईं जिसमे उन्होंने कहा, ‘पिछले दिनो मैंने कुछ ट्वीट पोस्ट किए हैं, जिसके बाद से मुझे लगातार धमकियां मिल रही हैं। कुछ लोग सोशल मीडिया पर गालियां दे रहे हैं, धमकियां दे रहे हैं और कुछ लोग फोन करके भी धमकियां दे रहे हैं। मैं उन्हें कहना चाहूंगी कि मैं जायरा वसीम नहीं हूं, मैं धमकियों से नहीं डरने वाली। मैंने देश के लिए लड़ी हुं और मैं अपने ट्वीट पर कायम हूं। जो भी मैंने लिखा, उसमें कुछ गलत नहीं था।

इस ट्वीट पर महाराष्ट्र के एक थाने में उनके खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज की गयी है। जिसके बाद बबिता फोगाट के फैंस के साथ साथ बीजेपी के कई दिग्गज भी बबिता (Babita) के समर्थन में उतर आया है। हालंकि बबिता ने अपना जमात से जुड़ा ट्वीट डिलीट कर दिया था लेकिन तब तक यह वायरल हो चुका था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.