सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी की अध्यक्षता में सैन्यधाम निर्माण के सम्बन्ध में समीक्षा बैठक आयोजित की गयी

 

देहरादून: मंत्री ने सैन्यधाम निर्माण कार्यों में तेजी लाने हेतु अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सैन्यधाम हेतु आवंटित भूमि का म्यूटेशन और हस्तांतरण की प्रक्रिया शीघ्रता से पूर्ण करें। उन्होंने अधिकारियों को एकबार पुनः स्थल का मौका मुआयना करते हुए इस सम्बन्ध में अग्रिम कर्यावाही करने और प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिये। सम्बन्धित अधिकारियों ने भूमि के सर्वे और सीमांकन का विवरण प्रस्तुत करते हुए मंत्री को सैन्यधाम की कार्य प्रगति से अवगत कराया गया। मंत्री ने इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी देहरादून को गंभीरता से संज्ञान लेते हुए सैन्यधाम के निर्माण की प्रगति तेजी से बढाने हेतु निर्देशित किया।

इस दौरान मंत्री ने कहा कि सैन्यधाम मा0 प्रधानमंत्री और स्वयं उनका एक ड्रीम प्रोजेक्ट है और धाम एक तरह से मन्दिर होता है और मन्दिर सैन्यधाम में वीर शहीदों की पूजा की जाती है। उन्होंने कहा कि सैन्यधाम में फौज के विभाग, टैंक, तोपें, शहीदों के चित्र, उनकी वीर गाथाएं अंकित करवाई जायेगी। यहां बाबा हरभजन सिंह और बाबा जसंवत सिंह के मन्दिर भी बनाये जाएगें, जिससे हमारी आने वाली पीढियां प्ररेणा लेंगी और उनके भीतर भी देशसेवा करने का जज्बा पैदा होगा।

मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि सैनिक परिवारों और शहीदों के सम्मान में हम 01 सितम्बर को सैन्य सम्मान यात्रा भी निकालने जा रहे हैं जिसमें शहीदों के परिवार वालों को सम्मान पत्र दिया जायेगा तथा उनके आंगन की पवित्र मिट्टी को सैन्यधाम निर्माण में उपयोग किया जायेगा। उन्होंने बताया कि वर्ष 2022 के अपै्रल-मई तक सैन्यधाम पूरा करने का लक्ष्य रख गया है।

इस दौरान बैठक में विशेष सचिव मुख्यमंत्री डाॅ पराग मधुकर धकाते, जिलाधिकारी डाॅ आर राजेश कुमार, अपर सचिव प्रदीप सिंह रावत, प्रबन्ध निदेशक उपनल ब्रिगेडियर पी.पी.एस पाहवा, डीएफओ मसूरी कहकशां नसीम, निदेशक सैनिक कल्याण ब्रिगेडियर के.बी चन्द्र, एमडी पेयजल उदयराज, अधिशासी अभियंता पेयजल निगम रविन्द्र कुमार आदि उपस्थित थे।

News  Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे।

यह भी पढ़े:  http://DM आर राजेश कुमार ने किया मलिन बस्तियों का निरीक्षण