AAP का ऐलान: सीएम तीरथ के खिलाफ गंगोत्री सीट से कर्नल कोठियाल लड़ेंगे उपचुनाव

AAP
 

देहरादून: आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रवक्ता नवीन पिरशाली ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत के गंगोत्री से उपचुनाव लड़ने की अटकलें को लेकर सत्ताधारी भाजपा को सीधे तौर पर चुनौती दी। नवीन पिरशाली ने कहा कि विधानसभा चुनाव से सालभर पहले नेतृत्व परिवर्तन करने वाली भाजपा को 57 विधायकों में से एक भी ऐसा काबिल व्यक्ति नहीं मिला जिसे मुख्यमंत्री बनाया सा सकता था, ऐसे में पार्टी ने तीरथ सिंह रावत को मुख्यमंत्री बनाया जो अभी तक विधानसभा चुनाव लड़ने का साहस नहीं दिखा पाए हैं। आप प्रवक्ता ने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत को सीधे चुनौती देते हुए कहा कि गंगोत्री विधानसभा उपचुनाव में आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता कर्नल अजय कोठियाल उनसे सीधा मुकाबला करेंगे। आप प्रवक्ता ने कहा की आज उत्तराखंड की जनता भाजपा की नाकाबिल सरकार से दुखी है। उन्होंने स्पष्ट किया की आम आदमी पार्टी का लक्ष्य उत्तराखंड का नवनिर्माण है और पार्टी के गंगोत्री उप चुनाव लड़ने का मकसद देवभूमि को एक नकारे मुख्यमंत्री के कुशासन से छुटकारा दिलाना है।

नवीन पिरशाली ने कहा कि भाजपा सरकार ने अब तक के सवा चार साल से ज्यादा वक्त के कार्यकाल में देवभूमि की जनता के साथ एक के बाद एक लगातार छलावे किए हैं और उत्तराखंड को बर्बाद कर दिया है । पार्टी ने कहा कि भाजपा सरकार ने इन सवा चार वर्षों में प्रदेश की जनता की आंखों में धूल झोंकने का काम किया है। आप प्रवक्ता ने कहा कि भाजपा ने पहले एक ‘ज़ीरो वर्क’ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को प्रदेश की जनता पर थोपा और फिर उनके नकारेपन को छुपाने के लिए ठीक विधानसभा चुनाव से सालभर पहले एक ऐसे व्यक्ति को मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बिठा दिया जिनके पास राज्य के विकास को लेकर कोई विज़न नहीं है। आप प्रवक्ता ने कहा कि ‘जीरो वर्क सीएम’ को हटा कर ‘जीरो विज़न सीएम’ को राज्य की जनता पर थोप कर भाजपा ने उत्तराखंड के जनमत का भारी अपमान किया है।

नवीन पिरशाली ने कहा कि 2017 विधानसभा चुनाव में उत्तराखंड की जनता ने भाजपा को स्थाई और मजबूत सरकार के लिए प्रचंड बहुमत दिया था ताकि सरकार पूरे पांच साल तक बिना किसी अस्थिरता के काम कर सके और अपना पूरा ध्यान राज्य के विकास पर लगा सके। खुद तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश में स्थाई सरकार का वादा किया था लेकिन इतने भारी भरकम बहुमत के बाद भी चार साल में ही भाजपा के भीतर सत्ता को लेकर लड़ाई खुल कर सामने आ गई जिसकी कीमत इस प्रदेश की आम जनता को चुकानी पड़ी। आम आदमी पार्टी ने कहा कि 2017 विधानसभा चुनाव में मिली प्रचंड जीत के बाद भी भाजपा हाईकमान ने इस राज्य की जनता पर दो-दो ‘रबर स्टांप’ मुख्यमंत्री थोपने का काम किया जो जनभावना के साथ बहुत बड़ा विश्वासघात है।

नवीन पिरशाली ने कहा कि मौजूदा मुख्यमंत्री के विधानसभा सदस्य निर्वाचित होने की अनिवार्यता का समय निकलता जा रहा है, बावजूद इसके भाजपा ने अभी तक स्थितियों को उलझा कर रखा है। पार्टी (AAP) ने कहा कि इतने गंभीर संवैधानिक मुद्दे पर भाजपा का यह टालमटोल रवैया बताता है कि उसने अभी से हार स्वीकार कर ली है। उन्होंने कहा की प्रदेश की जनता ने भाजपा की विदाई का मन बना लिया है और उत्तराखंड नवनिर्माण की शुरुवात तीरथ सिंह रावत के गंगोत्री उप चुनाव में विदाई से होगी।

News Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे।

यह भी पढ़े:  उत्तराखंड में नदियों एवं पट्टों पर खनन कार्य पर लगा प्रतिबंध, अब नहीं हो पाएगा किसी भी तरह का खनन