देहरादून के क्वारेंटाईन सेंटर में युवक द्वारा आत्महत्या के मामले में नोडल अधिकारी व डाक्टर निलंबित, मुख्यमंत्री ने दिये निर्देश

देहरादून के क्वारेंटाईन सेंटर में युवक द्वारा फांसी लगा कर आत्महत्या किये जाने के सम्बन्ध में नोडल अधिकारी व डाक्टर को निलंबित करने के मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये।

देहरादून: उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में बीते दिनों एक युवक द्वारा क्वारेंटाईन सेंटर में आत्माहत्या के मामले में सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने संबंधित नोडल अधिकारी व डाक्टर को निलंबित करने के निर्देश दिये हैं। देहरादून जिले के रायपुर से खबर आई थी की क्वारंटाइन सेंटर में एक युवक ने आत्महत्या कर ली है। इस खबर के बाद पुलिस और प्रशासन में हड़कंप मच गया।

https://www.newstrendz.co.in/?p=1257&preview=true

बताया जा रहा है कि गुलरघाटी क्वारंटाइन सेंटर में एक युवक ने फांसी लगाई और खुदकुशी कर ली। सुबह जब क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे बाकी लोगों को इसका पता चला तो उन्होंने पुलिस को इस बारे में खबर भी। पुलिस मौके पर पहुंची और परिजनों को इस बारे में सूचित किया गया। अधिकारीयों द्वारा बताया जा रहा है कि 19 साल का युवक हरिद्वार का रहने वाला था जो 5 जून को मध्यप्रदेश के जबलपुर से लौटा था। इसके बाद उसे गुलरघाटी क्वारंटाइन सेंटर भेज दिया गया था। सुबह जब युवक के कमरे का दरवाजा नहीं खुला तो लोगों ने इस बारे में पुलिस को खबर दी। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो पता लगा कि युवक ने खुदकुशी कर ली है।
फिलहाल इस पूरे मामले पर पुलिस जांच करने में जुट गई है और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।  यही नहीं घटना स्थल की भी जांच की जा रही है।

इस घटना पर मीडिया द्वारा लगातार सवाल किये जाने के बाद अब सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने इस पर एक्शन लेते हुए युवक के आत्महत्या पर संबंधित नोडल अधिकारी व डाक्टर को निलंबित करने के निर्देश दिये हैं। साथ ही क्वारंटाइन सेंटरों के अधिकारीयों को सही व्यवस्था बनाने के आदेश दिए है।

यह भी पढ़े:http://HDFC Bank खाताधारको को मिलेगा कैशबैक और स्पेशल डिस्काउंट, ग्रामीण क्षेत्र के ग्राहकों को भी मिलेगी छूट

Leave a Reply

Your email address will not be published.