Covid Curfew: 8 जून के बाद इन जिलों में मिल सकती है राहत,सरकार कर रही है आंकलन

 

देहरादून: कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार कम होने के बाद अब देहरादून, हरिद्वार, बागेश्वर, चंपावत व ऊधमसिंहनगर जनपदों को कोविड कर्फ्यू (Covid Curfew) में रियायत मिल सकती है। प्रदेश सरकार, ऐसे जिले जिनमें संक्रमण कम हो रहा है, उन्हें धीरे-धीरे अनलॉक करने की तैयारी में है। अब तक कोरोना की सबसे ज्यादा मार झेल रहे देहरादून, हरिद्वार और यूएसनगर जिलों में हाल के दिनों में संक्रमण में तेज गिरावट दर्ज की गई है। एक्टिव दर घटने के साथ इन जिलों में रिकवरी दर तेजी से बढ़ी है। हरिद्वार की संक्रमण दर सबसे कम 2.91% रही है, जबकि चार पर्वतीय जनपदों में संक्रमण थमने का नाम नहीं ले रहा। यहां संक्रमण दर अब भी 10%के ऊपर है। ऐसे में इन जिलों को कुछ और समय कोविड कफ्र्यू की बंदिशें झेलनी पड़ सकती हैं।

प्रदेश में मई के एक पखवाड़े के भीतर जहां 80 हजार से ज्यादा सक्रिय मामले थे, वो अब 27 हजार रह गए हैं। सक्रिय मामले कम होते देख सरकार संबंधित जिलों को राहत देने पर विचार कर रही है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत कह भी चुके हैं कि कम संक्रमण वाले जिलों को कर्फ्यू  (Covid Curfew) में छूट दी जाएगी। शासन द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक, 24 मई से 30 मई के बीच संक्रमण दर हरिद्वार में 2.91%, बागेश्वर में 3.99%, चंपावत में 4.78%, यूएसनगर में 5.13% और देहरादून में 5.35% रही। रिकवरी के मामले में बेहतर प्रदर्शन वाले इन जिलों को सरकार कफ्र्यू में ढील दे सकती है। इसके अलावा उत्तरकाशी में संक्रमण दर 5.83%, रुद्रप्रयाग में 8.36%, टिहरी में 8.58%, नैनीताल में 8.75% है। अन्य जिलों में संक्रमण का यह आंकड़ा पौड़ी में 10.54%, अल्मोड़ा में 10.33%, पिथौरागढ़ में 10.26% व चमोली में 10.19% है।

News Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे।

 

यह भी पढ़े: http://UKSSSC: ऑनलाइन भर्ती परीक्षाओं में घटाएगा समय और सवाल, जल्द होगा फैसला