कोरोना की तीसरी लहर के संक्रमण से बच्चों को बचाने की सरकार ने तैयार की योजना

Corona Third Wave
 

देहरादून: उत्तराखंड सरकार ने तकनीकी समिति की सिफारिश पर कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर में बच्चों को संक्रमण से बचाव व उपचार के लिए योजना तैयार कर ली है। संक्रमण से बचाव के लिए आयु वर्ग के हिसाब से विटामिन ए, सी, डी, जिंक, सैलेनियम की खुराक तय की है।

उपचार के लिए नवजात से लेकर 18 साल के बच्चों की तीन श्रेणी बनाई गई है। समिति की सिफारिश पर सरकार ने बच्चों के उपचार, पोषक तत्वों की खुराक देने का निर्णय लिया है। इस संबंध में सचिव स्वास्थ्य डॉ. पंकज कुमार पांडेय ने सभी जिलों को आदेश जारी किया है।

हेमवती नंदन बहुगुणा चिकित्सा विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. हेम चंद्र और दून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. आशुतोष सयाना की अध्यक्षता में तकनीकी समिति ने कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों को संक्रमण से बचाव व उपचार की सिफारिशें दी हैं। जिसमें समिति ने आयु वर्ग के हिसाब से विटामिन, जिंक, सैलेनियम की खुराक तय की है।

पांच साल से कम उम्र के बच्चों की मुंह की स्वच्छता बनाने के लिए बीटाडीन व क्लोरहेक्सिडिन से कुल्ला करने का सुझाव दिया। बच्चों में पोषक आहार, जंक, उच्च फाइबर भोजन, बच्चों व माताओं को दो से तीन गुणा तरल पदार्थ का सेवन करना चाहिए।

 

News Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे।

 

यह भी पढ़े:  http://शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सभी राज्यों के लिए परफॉर्मेंस ग्रेडिंग इंडेक्स जारी करने को दी मंजूरी