एक करोड़ रुपये की स्मैक तस्करी का गिरोह गिरफ्तार, तीन फरार

dehradun
 

देहरादून : उत्तराखंड से स्मैक तस्करी का एक और चौंका देने वाला मामला सामने आया है। उत्तरप्रदेश के बरेली से उत्तराखंड में स्मैक तस्करों द्वारा 1 करोड़ की स्मैक पुलिस ने बरामद कर ली है। सहसपुर पुलिस ने इस गैर कानूनी धंधे में शामिल मुखिया को हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने स्मैक तस्करी को अंजाम देने वाले मुख्य आरोपी और गिरोह के मुखिया के खिलाफा एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। तस्करी के गिरोह में शामिल 3 लोग अब भी फरार बताए जा रहे हैं। आरोपी रफीक को सोमवार को कोर्ट में पेश कर जेल भेज दिया गया है। सीओ विकासनगर वीडी उनियाल के मुताबिक आरोपी रफीक गिरोह का सरदार है और यही बरेली से उत्तराखंड स्मैक की तस्करी को अंजाम दे रहा था। इस गिरोह में 3 से 4 लोग और शामिल हैं जो फरार बताए जा रहे हैं। पुलिस सभी आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है। सहसपुर पुलिस इससे पहले भी 78 लाख की स्मैक तस्करी कर रहे आरोपियों को जेल के पीछे भेज चुकी है।

 

पुलिस ने स्मैक तस्करी कर रहे इसी गिरोह के 5 और लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है और उनको गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने गैंग के मुखिया को भी 425 ग्राम स्मैक के साथ सहारनपुर रोड क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस 1 सप्ताह के भीतर गैंग के मुखिया तक पहुंची। दरअसल रफीक और उसके साथ कुछ और लोग मिलकर बरेली से उत्तराखंड स्मैक तस्करी को अंजाम देते थे। केवल उत्तराखंड ही नहीं बल्कि यह गिरोह हिमाचल तक में ड्रग्स की सप्लाई करते थे। इन दिनों पूरे सहसपुर में बरेली के नशा तस्कर तेजी से पैर फैला रहे हैं। ऐसे में पुलिस चौकन्नी हो रखी है। 23 जून को गिरोह के पहला सदस्य अलीम को पुलिस ने 13.50 ग्राम स्मैक के साथ धर दबोचा। अलीम को गिरफ्तार करने के बाद पुलिस ने अगले ही दिन गिरोह के दूसरे सदस्य नौशाद को भी 11.50 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार कर लिया।

News Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे।

यह भी पढ़े: उत्तराखंड कांग्रेस से बड़ी खबर, नेता प्रतिपक्ष का नाम फाइनल, ये बनेंगे प्रदेश अध्यक्ष