केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को दी हरी झंडी

उत्तराखंड: देहरादून में पहली बार प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को हरी झंडी मिली है। इस योजना के तहत हर व्यक्ति को 5 किलो चावल निःशुल्क प्रदान किया जाएगा। यह व्यवस्था नियमित आवंटन के इतर है। इसके तहत गरीब कल्याण अन्न योजना (yojna) के प्राथमिक परिवार और अंत्योदय को भी शामिल किया गया है। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता विभाग के मुताबिक, 54 लाख प्राथमिक परिवार और 7 लाख अंत्योदय के कुल 61 लाभार्थियों को इसका लाभ मिलेगा। इस योजना की खासियत यह है कि एक परिवार में जितने सदस्य होंगे सभी को 5 किलोग्राम की दर से चावल उपलब्ध कराया जाएगा। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता विभाग के मुताबिक, अप्रैल, मई और जून माह के लिए चावल या गेहूं दोनों में से कोई एक अनाज लाभार्थियों को दिया जा सकता है। (Uttarakhand) उत्तराखंड सरकार के पास चावल का प्रचुर भंडार है। जिसके चलते सभी लाभार्थियों को चावल बांटे जाने पर विचार किया जा रहा है। उत्तराखंड (Uttarakhand) के ऊधमसिंह नगर, हल्द्वानी, रामनगर और टनकपुर में चावल की अच्छी पैदावार है। फिलहाल, तीन माह के लिए 90 मिट्रिक टन चावल की आवश्यकता है, जो प्रदेश सरकार के पास सुरक्षित है। खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता विभाग मामले के सचिव -सुशील कुमार का कहना है कि अभी नियमित आवंटन का क्रम जारी है। लेकिन केंद्र का आदेश बुधवार को ही मिला है। लिहाजा, आगामी एक-दो दिन के अंदर इस श्रेणी के लाभार्थियों को भी चावल आवंटित करने का काम शुरू कर दिया जाएगा। यह केंद्र की योजना (yojna) है जिसके तहत प्रति व्यक्ति 5 किलो चावल कुल 61 लाख लाभार्थियों को दिए जाएंगे। आवंटित करने का आदेश आ गया है। कोरोना के चलते हुए लॉक डाउन को ध्यान में रख कर गरीब परिवार को इसका लाभ जल्द से जल्द पहुंचना हमारा लक्ष्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.