कोरोना से हुई शिक्षक की मौत: साथियों ने मिलकर परिवार को दी 4.50 लाख की मदद

dehradun
 

देहरादून:  राजमती देवी सरस्वती विद्या मंदिर के व्यायाम शिक्षक की कुछ समय पूर्व कोरोना से मृत्यु हो गयी थी, जिसके बाद शिक्षकों के प्रयासों से उनके परिवार के लिए आर्थिक मदद जुटाई गई। आज अपर निदेशक माध्यमिक के हाथों उनके परिवार को आर्थिक सहायता के रूप में डिमांड ड्राफ्ट और कुछ धनराशि नगद मुहैया करवाई गई। साथी उनकी हर संभव मदद करने का आश्वासन भी दिया गया। पौड़ी के एक विद्यालय में व्यायाम शिक्षक के रूप में तैनात विमल किशोर जुयाल की अप्रैल माह में कोरोना संक्रमित होने के चलते देहांत हो गया था। परिवार के भरण-पोषण की जिम्मेदारी उन्ही पर थी। उनके जाने बाद उनके परिवार के सामने आर्थिक संकट आना भी लाजमी था। शिक्षक राजेश रावत, की मुहिम पर सभी शिक्षकों,कर्मचारियों, अधिकारियों के प्रयासों से उनके परिवार को आर्थिक रूप से मदद देने के लिए सब एकत्र हो गए।

 

आज अपर निदेशक माध्यमिक के हाथों उनके परिवार को 4 लाख की एफडी और 44130 नगद धनराशि दी गयी। अपर निदेशक माध्यमिक महावीर सिंह बिष्ट ने बताया गया है कि कोविड के इस दौर में बहुत से लोगों ने अपनों को खो दिया है वहीं विमल किशोर जुयाल के जाने के बाद उनके दो बच्चे और उनकी पत्नी के भरण-पोषण को देखते हुए शिक्षकों की ओर से जो प्रयास किए गए हैं वह सराहनीय है और कोविड के दौर में हम सभी लोगों को अपने आसपास रहने वाले लोगों की सहायता के लिए आगे आना होगा, ताकि हमारी मानवता भी जिंदा रहे। राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के प्रदेश महासचिव सीताराम पोखरियाल की ओर से बताया गया है कि उनके कुछ शिक्षकों कमल रावत, कमलेश मिश्रा,कमल उप्रेती,राजीव रावत और अन्य कर्मचारियों के प्रयासों से यह संभव हो पाया है।

News Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे।

यह भी पढ़े: http://Uttarakhand: जंगली जानवरों की शिकार करने के आरोप में अधिवक्ता सहित चार गिरफ्तार