उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण आकड़ा बढ़ कर हुआ 44: देहरादून सहित नैनीताल और हरिद्वार भी रेड जोन में

देहरादून: कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जहां एक तरफ देश भर में लॉक डाउन की अवधि को बढ़ाया गया है ताकि इस पर काबू पाया जा सके वही दूसरी तरफ उत्तराखंड (Uttarakhand) में इस लॉक डाउन से कुछ खास फर्क पड़ता नहीं दिख रहा है। उत्तराखंड सरकार इसको रुकने के लिए हर दिन नयी गाइड लाइन जारी कर रही है। यही नहीं उत्तराखंड (Uttarakhand) को कई जोनो में भी बांटा गया है ताकि ज़ोन के आधार पर कोरोना संक्रमण के मामलों पर नज़र रखी जा सके। इसके बावजूद यहाँ कोरोना संक्रमण के पॉजिटिव केस (Positive Case) आये दिन सामने आ रहे है।

उत्तरखंड की राजधानी देहरादून लगातार खतरे में है। यहां कोरोना संक्रमण के आज देर शाम 2 नए पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इसके साथ ही देहरादून में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। आपको बता दें कि देहरादून को कोरोना वायरस का रेड जोन घोषित किया गया है। लेकिन इसके बाद भी लोग लगातार लापरवाही कर रहे हैं। हर दिन बढ़ते कोरोना संक्रमण पॉजिटिव केस (Positive Case) के चलते प्रशासन की चिंता बढ़ रही हैं। इसके साथ ही उत्तराखंड में कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 44 हो गई है। इस वक्त उत्तराखंड में देहरादून के अलावा हरिद्वार और नैनीताल को कोरोना संक्रमण का रेड जोन घोषित किया हुआ है।


उत्तराखंड सरकार द्वारा कोरोना संक्रमण के बीच हुए लॉक डाउन में सरकारी कार्यालयों को खोले जाने के सम्बन्ध में आज पुनः शासनादेश जारी किया गया। इस शासनादेश में आवश्यक सेवाओं से सम्बन्धी कार्यालय जैसे स्वास्थय विभाग, पुलिस, परिवहन, खाद्य आपूर्ति, बिजली विभाग, पेयजल, सफाई व्यवस्था को छोड़ कर सभी सरकारी कार्यालयों में बहुत आवश्यक कार्य हेतु ही कर्मचारी को बुलाया जाये बाकि सभी घर से बैठ कर फ़ोन के माध्यम से काम करेंगे। यह आदेश लॉक डाउन की अवधि 3 मई तक प्रभावी रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.