उत्तराखंड में ज़ोरदार बारिश: ऋषिकेश में गंगा खतरे के निशान के करीब

ऋषिकेश

ऋषिकेश में गंगा के बढ़ते जलस्तर के कारण प्रमुख घाटों पर पानी काफी ऊपर तक आ गया है। जिसके कारण हरिद्वार सहित मैदानी इलाकों में गंगा के बढ़े जलस्तर की वजह से निचले इलाकों में रहने वाले लोगों के लिए परेशानी खड़ी हो गई है।

देहरादून: उत्तराखंड के पहाड़ों पर हो रही ज़ोरदार बारिश का असर अब गंगा और उसकी सहायक नदियों पर भी पड़ने लगा है। ऋषिकेश में गंगा खतरे के निशाने के करीब बह रही है। ऋषिकेश में घाट जलमग्न होने लगे है। इसके कारण मैदानी इलाकों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है। पहाड़ों पर हो रही लगातार बारिश से गंगा और उसकी सहायक नदियों में उफान की स्थिति पैदा हो गई है। देहरादून और ऋषिकेश व आसपास के क्षेत्रों में सभी बरसाती नदी-नाले पूरे उफान पर हैं। इसके कारण गंगा का जलस्तर बढ़ना शुरू हो गया है।

https://www.newstrendz.co.in/tech/pm-modi-inaugurates-submarine-optical-fibre-cable-via-video-conferencing/

ऋषिकेश में गंगा के बढ़ते जलस्तर के कारण प्रमुख घाटों पर पानी ऊपर तक आ गया है। इसी वजह से हरिद्वार सहित मैदानी इलाकों में गंगा के बढ़ते जलस्तर की वजह से तटीय इलाकों में रहने वालो के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है। उत्तराखंड में सोमवार सुबह से हो रही बारिश से देहरादून के टपकेश्वर में तमसा नदी, रिस्पना नदी, डोईवाला, ऋषिकेश में सुसवा नदी और सॉन्ग नदी अपने पूरे उफान पर है। इन नदियों के उफान का पानी गंगा में जा कर मिल रहा है।

हालांकि प्रशासन इन सारी स्थितियों पर नजर बनाए हुए है। प्रशाशन द्वारा लोगों से अपील की जा रही है की वह गंगा के बढ़ते जलस्तर में स्नान ना करे और तटों पर रहने वाले लोग वह से सुरक्षित स्थानों पर चले जाये।

 

यह भी पढ़े: BJP सांसद ने पत्र लिखकर की प्रधानमंत्री मोदी से जनसंख्या नियंत्रण कानून लाने की अपील