Uttarakhand: ऑक्सीजन संकट, हॉस्पिटल प्राथमिकता , उद्योगों में ऑक्सीजन की सप्लाई पर रोक लगाने के निर्देश

uttarakhand
 

देहरादून: उत्तराखंड (Uttarakhand) में बढ़ते कोरोना मरीजों की संख्या के सामने अस्पतालों में ऑक्सीजन का संकट हो गया है। इसे देखते हुए अब प्रदेश सरकार भी सक्रिय हो गई है।कंपनियों को उद्योगों में ऑक्सीजन की सप्लाई पर रोक लगाने के निर्देश दे दिए है।

महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र को प्रभारी आक्सीजन मैनेजमेंट बनाया गया है। साथ ही जिले में ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनियों को उद्योगों में ऑक्सीजन की सप्लाई पर रोक लगाने के निर्देश दिए गए हैं। ऑक्सीजन का इस्तेमाल फार्मा उद्योगों के साथ फैब्रिकेशन से जुड़े कार्यों के साथ फूड प्रोसेसिंग यूनिटों में होता है। दून में भी बड़ी संख्या में फार्मा उद्योग है। इसके अलावा यहां फूड प्रोसेसिंग यूनिट और फैब्रिकेशन से जुड़े उद्योग भी हैंहालांकि फैब्रिकेशन से जुड़े बड़े उद्योगों की संख्या कम ही है। इन उद्योगों में ऑक्सीजन का इस्तेमाल किया जाता है। बढ़ते ऑक्सीजन संकट को देखते हुए फिलहाल उद्योगों में सप्लाई पर रोक लगा दी गई है।

इंडस्ट्री एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (uttarakhand) के अध्यक्ष पंकज गुप्ता ने कहा कि फिलहाल सबकी प्राथमिकता मेडिकल क्षेत्र है। लिहाज उद्योगों में सप्लाई नहीं दी जा रही है। ऑक्सीजन प्लांट संचालित करने वाले अंकुर सिंघल ने बताया कि फिलहाल उनकी प्राथमिकता अस्पताल हैं।

News Trendz आप सभी से अपील करता है कि कोरोना का टीका (Corona Vaccine) ज़रूर लगवाये, साथ ही कोविड नियमों का पालन अवश्य करे।

 

यह भी पढ़े:http://Uttarakhand: आज दो बजे से बंद हो जाएंगे बाजार , जल्द निपटा ले काम , शाम 7 बजे से लग जायेगा नाईट कर्फ्यू