इंस्पेक्टर होशियार सिंह बने मानवता की मिसाल, कुष्ट आश्रम में दान की इनाम की राशि

uttarakhand police

देहरादून: यदि मन ने ठान लिया हो तो मानव सेवा के अवसर हमारे इर्द गिर्द ही घूमते है खाकी यूं तो अपनी व्यस्तता के लिए जानी जाती है किंतु कुम्भ मेला पुलिस ने आधात्म की दुनिया के केंद्र बिंदु महाकुम्भ में मानवीय सेवा को अपना प्रथम लक्ष्य चुना है बात चाहे श्रद्धालुओं को डुबकी लगाने की हो या खाना खिलाने की , यात्रियों को कुम्भ दर्शन की हो या बिछुडो को मिलाने की। सभी स्तम्भो में कुम्भ मेला पुलिस अपनी अमिट छाप छोड़ रही है।
बैशाखी पर्व में पुलिस महानिदेशक द्वारा विशिष्ट कार्य के लिए अन्य कर्मियों के साथ आज कुम्भ मेला पुलिस लालजीवाला इंस्पेक्टर होशियार सिंह को भी 2000 रुपये का नगद इनाम से पुरुष्कृत किया था, जिस इनाम की राशि को इंस्पेक्टर होशियार सिंह ने चंडीघाट स्थित आजाद कुष्ट आश्रम में जाकर शाही स्नान के सकुशल संपन्न होने की खुशी में मिठाइयां जूस और बिस्कुट खिलाएं और वितरित किये साथ ही वहां 50 किलो चावल 50 किलो आटा दाल नमक मिर्च मसाला चीनी चायपत्ती और साबुन इत्यादि दान किए ।

अपने मानवीय क्रिया कलापों के माध्यम से पूर्व में भी चर्चा में आये इंस्पेक्टर होशियार सिंह के इस कार्य की आम जन और श्रद्धालुओं द्वारा सराहना एवम की जा रही है।
निश्चय ही इस प्रकार के कार्य जनसमुदाय में पथप्रदर्शक का उदाहरण बनते है और बनते ही एक तीक्ष्ण कटाक्ष जो पुलिस के मानवीय स्वरूप को अनदेखा करते है।

 

यह भी पढ़े:http://Uttarakhand Board की परीक्षाओं को भी किया जाएगा स्थगित, जल्द आ सकता है निर्णय