कोरोना वायरस के संबंध में अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी की प्रेसवार्ता

लखनऊ: कोरोना वायरस (Corona Virus) को लेकर मुख्यमंत्री की अधिकारीयों के साथ हुई बैठक में आज महत्वपूर्ण बिन्दुओ पर चर्चा हुई। इस सम्बन्ध में प्रेस को सम्बोधित करते हुए अपर मुख्य सचिव, गृह व सूचना अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सम्बंधित राज्यों से हमारे प्रवासी श्रमिकों की सूची (श्रमिकों का नाम, पता, फोन नम्बर व स्वास्थ्य परीक्षण की स्थिति) जैसे ही उपलब्ध हो जाएगी, उनको वापस लाने की योजना तत्काल आगे बढ़ा दी जाएगी। हमारे हरियाणा से 12,000 से भी अधिक श्रमिक, प्रदेश में आए हैं, प्रत्येक श्रमिक का एक स्थाई डाटाबेस तैयार हो गया।

बाॅर्डर को सील करने के निर्देश:
इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने प्रदेश के बाॅर्डर को सील करने के स्पष्ट निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि सीमावर्ती क्षेत्रों व अंतर्राष्ट्रीय बाॅर्डर पर सतर्कता बरती जाए। नेपाल या अन्य किसी भी राज्य से कोई भी व्यक्ति बिना अनुमति प्रदेश में न आए।

स्वास्थ्य परीक्षण होने तक क्वारंटाइन केद्रों’ में रहना होगा:
अपर मुख्य सचिव ने बताया कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि ‘क्वारंटाइन केद्रों’/शेल्टर होम में प्रवासी श्रमिकों का जब तक स्वास्थ्य परीक्षण नहीं हो जाएगा तब तक उनको ‘होम क्वारंटाइन’ में नहीं भेजा जाएगा। इसके साथ ही दो बार चेकअप करने की व्यवस्था है, जिसमें प्रथम चेकअप वहां से चलने पर, द्वितीय चेकअप यहां पहुंचने पर किया जाएगा। घर भेजते समय मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार राशन की किट भी हर व्यक्ति को दी जा रही है।

निर्माण कार्यों से जुडे़ निराश्रित व्यक्तियों को सहायता:
निर्माण कार्यों से जुडे़ 16.08 लाख श्रमिकों, नगरीय क्षेत्र में 7.67 लाख श्रमिकों तथा ग्रामीण क्षेत्रों के अंतर्गत 5.55 लाख निराश्रित व्यक्तियों को अब तक कुल ₹293.04 करोड़ का वितरण हुआ है, जिसमें आज की प्रगति ₹2.17 करोड़ है।

कन्ट्रोल रूम:
राज्य स्तरीय कन्ट्रोल रूम (दूरभाष संख्या 0522-2202893) में 2,324 शिकायतें प्राप्त हुई, जिसमें 1,232 प्रकरण श्रम विभाग, 146 प्रकरण सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम विभाग तथा शेष 946 प्रकरण स्थानीय लॉजिस्टिक, पास एवं स्वास्थ्य से संबंधित हैं।

सेनिटाइजर एवं मास्क की नयी इकाई:
सेनिटाइजर की 40 नई इकाईयों को आवश्यक स्वीकृति उपरांत आबकारी विभाग से एल्कोहल आवंटित कराते हुए कुल 99 इकाईयां क्रियाशील हैं। प्रदेश की पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्‍यूपमेन्‍ट/मास्क निर्माण की 72 इकाईयों में से 70 यूनिट क्रियाशील है। शेष 2 इकाईयों को शीघ्र क्रियाशील करने की दिशा में कार्यवाही की जा रही है।

‘कोविड केयर फंड’ से खरीदे जायेंगे वेंटिलेटर्स:
अवनीश अवस्थी ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने निर्देश दिए हैं कि अतिरिक्त वेंटिलेटर्स की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा है कि पोर्टेबल वेंटिलेटर्स व इंफ्रारेड थर्मामीटर को जल्द से जल्द, ‘कोविड केयर फंड’ से खरीदा जाए।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.