उत्तर प्रदेश में इस बार नहीं होगा सार्वजनिक रूप से गणेश उत्सव, मोहर्रम में ताजिये पर भी रोक

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश के डीजीपी ने अपने आदेश में प्रदेश के सभी जिला कप्तानों को कहा है कि कोरोना के कारण केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस का पालन करवाया जाए। धारा 144 का सख़्ती से पालन करवाने के भी निर्देश उन्होंने दिए गए हैं।

लखनऊ: वैश्विक महामारी कोरोना के कारण इस बार उत्तर प्रदेश में गणेश चतुर्थी और मोहर्रम को लेकर पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने गाइडलाइन जारी कर दी है। यूपी में इस साल गणेश चतुर्थी में पंडालों में मूर्ति स्थापना पर रोक रहेगी। इसके साथ ही शोभा यात्रा, जुलूस, झांकी आदि पर भी पाबंदी रहेगी। मोहर्रम पर भी जुलूस और ताज़िए निकालने पर रोक रहेगी। इस संबंध में जिला पुलिस कप्तानों को धर्मगुरुओं, ताजियेदारों से संपर्क में रहने के निर्देश दिए गए हैं। डीजीपी ने अपने आदेश में सभी जिला कप्तानों को कहा है कि कोरोना के चलते केंद्रीय गृह मंत्रालय की गाइडलाइंस का पालन करवाया जाए। धारा 144 का सख़्ती से पालन करवाने के भी निर्देश दिए गए हैं।

सोशल मीडिया पर सख्त निगरानी के निर्देश

पुलिस महानिदेशक ने अपने आदेश में कहा है कि संवेदनशील स्थानों की सीसीटीवी और ड्रोन से निगरानी की जाए। साथ ही सोशल मीडिया पर अफ़वाह और भड़काऊ पोस्ट डालने पर तुरंत कार्रवाई की जाए। आदेश में कहा गया है कि इलाके के पहले से चिन्हित अपराधी और असामाजिक तत्वों पर कड़ी निगरानी रखी जाए। जरुरत पड़ने पर तुरंत निरोधात्मक कार्रवाई की जाए। बीट व थाना इंचार्ज छोटी से छोटी घटना पर तुरंत रिस्पांस करें।

https://www.newstrendz.co.in/cinema/sushant-singhrajput-case-cbi-supremecourt-order/

सादगी से अपने घरों में मनाएं त्योहार

पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी ने लोगो से अपील की है कि किसी भी सूरत में कोविड-19 के लिए जारी दिशा निर्देश का उल्लंघन न हो। लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क पहनने के लिए प्रेरित किया जाये। इतना ही नहीं गणेश चतुर्थी के मौके पर पूजा पंडालों में मूर्ति की स्थापना न हो और किसी भी तरह के शोभा यात्रा या जुलुस निकालने की अनुमति न दी जाए। उन्होंने कहा है कि गणेश पूजन लोग सादगी से घरों पर ही मनाएं इसके लिए उन्हें प्रेरित किया जाए। मोहर्रम के अवसर पर किसी भी प्रकार के जुलूस और ताजिया निकलने की अनुमति भी न दी जाए। इस बारे में सभी धर्मो के धर्मगुरुओं से बात कर के कोरोना के गाइडलाइन्स का पालन करवाया जाए।

यह भी पढ़े: देश में कोरोना वायरस ने पकड़ी रफ़्तार: 64,531 नए कोरोना संक्रमित,आंकड़ा 27 लाख 67 हजार के पार